यूपीएल का साथी खरपतवार नाशक [Herbicide, Use, Price] | Upl Sathi Uses Hindi Technical

0
720
यूपीएल का साथी खरपतवार नाशक, Herbicide, Technical, Price | Upl Sathi Uses Hindi

Upl Sathi Uses Hindi Herbicide Technical Price, saathi dawai pyrazosulfuron ethyl 10% wp, kharpatwar nashak dawai dava साथी खरपतवार नाशक, pathiri use in hindi bb how to weedicide हर्बिसाइड एथिल पाउडर दवा dhan cyno उपयोग करता है प्रयोग dose laathi 20g 80g

फसलों में खरपतवार एक आम समस्या हो गई है तो ऐसे में किसान हर वक्त परेशान रहता है की खरपतवार को कैसे अच्छे से निपटारा करें।

तो इसी कारण मार्केट में बहुत सारे kharpatwar nashak Dawai उपलब्ध है और कई किसान जैविक विधि से भी खरपतवार नियंत्रण करते हैं।

लेकिन अभी हम इस आर्टिकल के माध्यम से यूपीएल का साथी खरपतवार नाशक Dawai के बारे में पूरा डिटेल में जानेंगे कि कैसे इसका उपयोग करना है उसी के साथ यह कौन कौन से खरपतवार में उपयोग किया जा सकता है इन सारे पॉइंट्स को जानेंगे।

वैसे तो upl Saathi herbicide धान की फसल में ही सबसे ज्यादा उपयोगी होती है इसी में ही इसका उपयोग किया जाता है क्योंकि यह चौड़ी पत्ती वाली खरपतवार और फसलों में उगने वाले घास को नियंत्रण करता है जिसे कई क्षेत्र में आलू बन भी कहा जाता है।

यह भारत में पाउडर फॉर्म में उपलब्ध होता है जिसका technical- pyrazosulfuron ethyle 10% WP है.

यूपीएल साथी दवाई की जानकारी (upl Sathi herbicide)

Saathi दवाई यूपीएल कंपनी द्वारा बनाई जाती है जिसके बहुत सारे और भी खेती से संबंधित दवाई बाजार में उपलब्ध है।

upl Sathi technical देखें तो pyrazosulfuron ethyle 10% WP है जो एक हर्बिसाइट के रूप में उपयोग किया जाता है जो पाउडर फार्म में आता है।

इसको स्प्रे के जरिए या रेत में मिलाकर खेतों में छिड़काव किया जाता है जो चौड़ी पत्ती वाले खरपतवार का काफी अच्छे ढंग से नियंत्रण करता है और यह खरपतवार को उगने से भी रोकता है।

धान की फसल में उपयोगी (Dhan ki fasal me sathi kharpatwar)

भारत के कई क्षेत्रों में एकतरफा धान की बुवाई की जाती है और बरसात में तो यहां लगभग भारत के आधे से ज्यादा क्षेत्रों में लगाया जाता है तो ऐसे में धान की फसल में बहुत सारे अलग-अलग kharpatwar आ जाते हैं ।

जिसका नियंत्रण कर पाना मुश्किल सा हो जाता है तो ऐसे में यूपीएल का साथी दवाई का उपयोग करके किसान चौड़ी पत्ती वाली हर्बिसाइड और फसलों में उगने वाले घास का नियंत्रण कर सकते हैं जो धान की फसल में सबसे ज्यादा प्रभावी होता है।

साथी कीटनाशक का उपयोग (Upl Sathi Uses In Hindi)

इसके अच्छे परिणाम के लिए इसके उपयोग विधि को जानना बहुत जरूरी होता है तभी इसका सही परिणाम बिना नुकसान के मिलता है।

इसकी मात्रा की बात करें तो 80 से 100 ग्राम प्रति एकड़ के हिसाब से उपयोग करना होता है।

अगर हम धान की फसल में इसका उपयोग करते हैं तो धान की रोपाई के 3 से 7 दिन के बीच इसका उपयोग किया जाता है जिसके लिए आप यूपीएल साथी को स्प्रे द्वारा छिड़काव कर सकते हैं या फिर इसको रेत में अच्छे से मिलाकर खेतों में छिड़काव करना होता है।

कई किसान dhan की सीधी बुवाई भी करते हैं जिसको लाईचोपी भी बोला जाता है तो यहां भी आपको रोपाई के समय ही उपयोग करना है।

upl Saathi herbicide pre-immergance के रूप में कार्य करता है मतलब यह फसलों में खरपतवार उगने से पहले उपयोग करने पर खरपतवार को 40 से 45 दिनों तक उगने से पूरी तरह रोक के रखता है।

इसका उपयोग आप मिट्टी के साथ भी कर सकते हैं यह पाउडर के रूप में होता है तो आप मिट्टी में भी इसको अच्छे से मिलाकर खेत के पूरे क्षेत्र में अच्छे से छिड़काव कर सकते हैं।

यूपीएल साथी का उपयोग करते समय आपको कुछ सावधानियां भी रखनी पड़ती है जैसे आपके त्वचा आंखों को इस दवाई से बचा कर रखनी होती है।

यूपीएल साथी की कीमत (sathi kharpatwar price)

यह kharpatwar nashak दवाई अलग-अलग पैकेट में मार्केट में उपलब्ध है जैसे इसके 80 ग्राम का पैकेट ₹200 के आसपास आता है वही इसके 20 ग्राम का पैकेट ₹75 के आसपास आपको बाजार में मिल जाएगा।

तो किसान वीरो आपको यूपीएल का साथी खरपतवार नाशक दवाई के बारे में जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट के माध्यम से बताना बिल्कुल भी ना भूले और आपको जानकारी (Upl Sathi Uses In Hindi) पसंद आई है तो अगले किसान वीरों के साथ जरूर शेयर करें।

आपका प्रेम पूर्वक धन्यवाद,

Product Buy On Amazon

और पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here